Til ke tel ke fayde

Til Ke Tel Ke Fayde [11- प्रकार के स्वास्थ्य लाभ] तिल का तेल

Til ke tel ke fayde (health benefits of Sesame oil in hindi) तिल का तेल के उपयोगिता और उसके लाभ जानकर हैरान हो जाएंगे।

हर कोई सोचता है कि यह बाकी तेल की तरह एक सामान्य सा ये ही एक तेल है जो खाने और भोजन बनाने का एक हिस्सा है लेकिन आज में आपको बताऊंगा til ke tel ke fayde (health benefits of Sesame oil in hindi) ये किस तरह हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है।

आज तिल एशिया में विशेष रूप से चीन, बर्मा और भारत में व्यापक रूप से बढ रहा है।
यह सूडान, इथियोपिया और नाइजीरिया में भी मुख्य नकदी फसलों में से एक है, तिल का तेल छोटे फ्लैट अंडाकार पौधों से प्राप्त होता है जो कि अखरोट और कुरकुरे बनावट की तरह स्वाद और होते हैं।

Table of Contents

कच्चे तिलों की बीज के आधार पर यह दो प्रकार के होते हैं।

01 हल्के तिल के तेल इसमें थोड़े से अखरोट के स्वाद होते हैं और
02 गहरे तिल के तेल से बने हुए तिल के बीज होते हैं और इसमें तेज स्वाद और सुगंध होती है।

एशिया में सदियों से तिल के तेल का उपयोग किया जाता रहा है और रसोई में और दवाई के उद्देश्य से भी।

विशेष रूप से उनकी आयुर्वेद चिकित्सा में, जहाँ उनका वैदिक चिकित्सा में लगभग 90% वनस्पति तेलों के लिए आधार तेल के रूप में उपयोग किया जाता है।

जानिए Figaro oilve Oil Health Benefits

तिल का तेल शरीर को मजबूत बनाने और detoxify करने और सभी महत्त्वपूर्ण अंगों के उचित कामकाज को सुनिश्चित करने की अपनी क्षमता के लिए प्रसिद्ध है।

आज तिल के तेल को पवित्र और धार्मिक समारोहों में उपयोग किया जाता है, और आज बाजार में तिल का तेल त्वचा, बालों की देखभाल के उत्पादों, सौंदर्य प्रसाधन, साबुन, इत्र और सनस्क्रीन के लिए तेलों और मालिश का एक सामान्य घटक है।

(Health benefits of Sesame oil in hindi) Til ke tel ke fayde अरोमाथेरेपी में यह सुखदायक का काम करनेवाला होता है। यह आमतौर पर मालिश तेल और आवश्यक तेल में से वाहक तेल के रूप में उपयोग किया जाता है।

त्वचा को मॉइस्चराइज करने, मुंह से विषाक्त पदार्थों को खत्म करने, सनस्क्रीन के साथ त्वचा के प्राकृतिक डिटॉक्सिफायर और बालों के स्वास्थ्य के लिए खोपड़ी और सिर पर तिल के तेल को बालों को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

यहाँ तिल के तेल के अन्य उपयोग भी हैं। इसमें एंटीवायरल गुण और प्राकृतिक जीवाणुरोधी एंटीऑक्सिडेंट हैं और कई अध्ययन से पता चला है इसके चिकित्सीय लाभ और स्वास्थ्य लाभ किस प्रकार हैं।

तिल के तेल में उच्च स्तर के प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जिन्हें तिल या Sesame SN और तिल के तेल कहा जाता है।

एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों के साथ नीस लिग्निन में विटामिन ई होता है जो त्वचा को मजबूत और लचीला बनाए रखने में मदद करता है।

जबकि सीसम में दो दर्जन से अधिक औषधीय रूप से सक्रिय लाभकारी गुण होंगे, जिनमें से अधिकांश हृदय स्वास्थ्य में सुधार करने के लिए काम करते हैं।

तिल के तेल के फायदे उसके पोषक तत्व (nutrients and health benefits of Sesame oil in Hindi) Til Ke Tel Ke Fayde

मूंगफली के तेल के समान संरचना के साथ तिल के तेल में 15% संतृप्त वसा, 42% टोलिया कैसैट और 43% ओमेगा-6 लिनोलिक एसिड होता है।

यह  विटामिन B में भी समृद्ध है, जिसमें राइबोफ्लेविन थियामिन, नियासिन पैंथोएनिक एसिड के विरोधाभास और तिल के तेल फोलिक एसिड के दुष्प्रभाव शामिल हैं।

Sesame Oil Health Benefits in hindi तिल के तेल के फायदे

तिल का तेल के अद्भुत स्वास्थ्यर्धक उपयोग आज हम देखेंगे जिनमें से में आपको शुरुवात में ही बता दिया था कि Til ke Tel ke fayde (health benefits of Sesame oil in hindi) और यह कितना ज्यादा गुणकारी है स्वास्थ्य के लिए।

Til ke tel ke fayde

और इसके सदियों से ऋषि मुनयों के जमाने से इसका इस्तेमाल किया जा रहा है। इसलिए इसका उच्चारण आयुर्वेद में भी बहुत महत्व है।

हड्डियों के विकास में (Bone growth health benefits of Sesame Oil in Hindi) Til Ke Tel ke fayde

इसका इस्तेमाल हड्डियों को मजबूत बनाने में सहयोग करता है इसलिए इसका इस्तेमाल बहुत ज्यादा बच्चों में भी मालिश के लिए क्या जाता है।

इस til ke tel ke fayde यह है कि इसमें अच्छा अमीनो एसिड और detoxify agent होते हैं जो बच्चों के त्वचा से अवशोषित होकर उसने मांसपेशियों में जाके और उनके हड्डियों को और भी मजबूती प्रदान करता है।

और तिल के तेल में पाए जाने वाले खनिज केसे कैल्शियम मैग्नेशियम आयरन जो आपके हड्डियों को पर भी मजबूत बनाने में सहयोग करती है।

सूर्य कि विकिरणों से बचाना (Protects Hair from Harmful UV Rays) til ke tel ke fayde surya ki uv rays se

आप जरूर सूर्य के रोशनी मे निकलने से पहले सनस्क्रीन का इस्तेमाल करते होंगे और यह चिंता करते होंगे कि यह काम अच्छे से क्यों नहीं कर रहा है।

और कुछ लोग सनस्क्रीन लेने से डरते होंगे कि उसका दुप्रभाव ना पड़ने लगे या कोई एलर्जी ना होने लगे इस सनस्क्रीन से क्युकी इसमें बने केमिकल से सब लोग डरते हैं।

लेकिन आप til ke tel ke fayde को बहुत आसानी से ले सकते हैं और अच्छे से इस काम में लगा सकते हैं और इसका लाभ ले सकते हैं।

यह एक anti inflammatory and anti toxicity or detoxify गुण होता है। जो सूर्य से आने वाले रोशनी से और उसके दुष्रिणामों से बचाता है और आपके त्वचा को स्वस्थ रखता है।

मालिश के लिए ( Sesame oil as massage oil health benefits in hindi)

आप तिल के तेल को मालिश करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। असल में इसका इस्तेमाल ज्यादातर मालिश के लिए ही करते हैं।

यह एक प्रकार का बहुत ही गर्मी प्रकृति का तेल है जो आपके मालिश के दौरान यह त्वचा से अंदर जाकर हीलिंग का काम करता है और कोई भी सूजन दर्द या और कोई समस्या हो उसको दूर करता है।

मानसिक तनाव में  (sesame Oil benefits in stress and Depression in Hindi)

यह अध्धयन से साबित हो चुका है कि तिल तेल  को इस्तेमाल करके बहुत ही ज्यादा आप अमीनो एसिड यानी प्रोटीन प्राप्त के सकते हैं जिसमें से tyrosine बहुत अहिक मात्रा में पाया जाता है।

और यह हमारे ब्रैन में कुछ रसायन को केमिकल को उचित मात्रा में बनाने में सहोग करता है जिसमें सेरोटोनिन और डोपामिन होते हैं जो इंसान को डिप्रेशन और स्ट्रेस से लडने में सहायता करती है और इससे केमिकल से लोगों को खुशी का महसूस होता है।

पेट और आंतों के स्वास्थ में (for better Intestinal Health)

तिल के तेल के फायदे (til ke tel ke fayde) से ये भी एक फायदा है। जिसमें यह तेल आपको अपना पाचन तंत्र की भी स्वश्य रखती है क्युकी यह बाकी तेलों के मुकाबले यह थोड़ा हल्का है।

और यह बाकी तेल के मुकाबले इसको पचाने में कोई समस्या नहीं होती है। और यह हमारे पेट में पल रहे healthy bacteria जिसे flora कहते हैं इनको अच्छे से बढ़ने में सहायता करती है।

जो यह जीवाणु हमारे अंदर रहकर आने वाले बुरे जीवाणु को नष्ट करने में सहायता करती है। और हमरे बहुत प्रकार के पेट के संक्रमण से के बीमारी से बचाता है।

खून के संचार और मेटाबॉलिज्म में (Circulation and Metabolism)

तिल के तेल में कम मात्रा में कोलेस्ट्रॉल होता है और यह जिससे बाकी तेल के मुकाबले यह कोई भी परेशानियां नहीं होती है।

और यह उसने काफी मात्रा में unsaturated fatty acids एसिड पाए जाते हैं जो की (metabolism) चपापचय क्रिया में सहायता मिलता है। यह लिवर यानी यकृत को लाभ पहुंचता है जिससे लिवर को मेटाबॉलिज्म करने में सहायता होती है।

और इससे को खून के संचरण में परेशानी नहीं होती और कोई भी खून के बीमारी जैसे खून का थक्का बनना और बाधित संचार करना ये सब खून संचरण की बीमारी होने से रोकता है।

मुंह के स्वास्थ में (sesame oil benefits in oral health in hindi)

तिल का तेल मुंह के स्वास्थ्य के लिए महत्वपर्ण होता है। तिल के तेल को oil pulling में एक प्रक्रिया है जिसमें तेल को मुंह रखके 10 मिनट तक कुल्ला किया जाता है, और फिर उसके बाद नमक के पानी से मुंह धोया जाता है।

जो मुंह के स्वास्थ्य के लिए क्या जाता है जिसमें तिल का तेल भी इस्तेमाल किया जाता है। इसमें पाए जाने वाले एंटी ऑक्सीडेंट एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटी माइक्रबियल प्रकृति मुंह के जीवाणु और सूजन को आराम करती है।

और यह जीवाणु को नश्ट कर देती है,और मुंह के बीमारी को रोकने में बड़ा सहायक होती है। जिससे मुंह से आने वाले बदबू और और दांत के सड़न को रोक सकते हैं।

सर्दी जुकाम में (Cold and Airborne Infections)

जैसे कि में पहले ही बताया था कि यह तेल गरम प्रकृति का है और यह एक एंटी वायरस और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं।

जो इसके इसतेमाल से जीने वाले सर्दी जुकाम और वायरल बुखार का इलाज किया जाता है।

आंखों के लिए til ke tel ke fayde (for Improved Vision)

तिल के तेल से खून का संचरण में ज्यादा सुधार आता है जिससे आँख और हमारे सर के बालों को पोषक तत्व मिलता है जिससे हमारे आंखों को रोशनी अच्छी होती है। और आंखे स्वस्थ रहती हैं।

बच्चों के स्वास्थ्य में (For improve Infant Health)

तिल के तेल के फायदे जो की बहुत प्रकार के है पर बच्चों में उसकी बहुत ज्यादा उपयोगिता है। यह बच्चों के मालिश में इस्तेमाल किया जाता है।

जिसमें इसके पोषक तत्व बच्चों में बहुत लाभकारी सिद्ध होते हैं।
सदियों से यह तेल बच्चों के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है।

और यह तेल बच्चो को अंदर से मजबूत बनाती है, और बच्चों के हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत बनाने में सहायक होती है और उनके विकास में मदद करती है।(

(Til ke tel ke fayde) बीमारियों में तिल का तेल का उपयोग Health benefits of Sesame oil in hindi for disease

यह तेल बहुत से रोगों में और बीमारियों में बहुत सहायक होती है। इसके इस्तेमाल से बहुत से गंभीर बीमारी को होने से रोका जा सकता है।
के बीमारियों लाभदायक सिद्ध होता है।

Til ke tel ke fayde

01 हृदय के बीमारी में:

यह तेल हृदय के बीमारियों को रोकने में सहायक होता है। क्योंकी आप सब जानते है दिल के बीमारी के सबने जाता कारण हमरे खून में मौजूद वसा यानी फैट या कोलेस्ट्रोल के कारण पैदा होती है।

तिल के तेल में बाकी तेलों के मुकाबले बहुत जड़ा इसमें unsaturated fatty acids पाया जाता है। जो कि हमारे हृदय के लिए लाभकारी होता है।

और दूसरा प्रकार होता है, saturated fatty acids जो की हमारे हृदय और स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक होती है।

जो कि तिल के तेल में बहुत कम मात्रा में पाया जाता है। इसलिए यह बाकियों तेल के मुकाबले तिल का तेल बहुत ज्यादा लाभकारी है। और दिल के बीमारियों को रोकने में सक्षम है।

02 मुंह के और दांतो के बीमारी में

यह तेल हमारे मुंह के और दांत के बीमारी में बहुत ज्यादा लाभदायक है। हमारे पूर्वजों के पास कोई टूथब्रश नी था वो लोग दातुन का इस्तेमाल करते ते फिर भी उनके दांत आज के लोगों के जमाने क्यों मजबूत हुआ करते थे, कभी सोचा है?

उनको ना पहले ज्यादा दांतो में सड़न होती थी ना कोई सेंसिटिविटी वो इसलिए क्योंकि वो लोग आयुर्वेद का इस्तेमाल करते थे जानते हुए या अनजाने में क्योंकि आज कुछ लोगों का मानना है कि दातुन toothbrush से काफी ज्यादा अच्छी है।

लेकिन पहले के लोग अपना मुंह तेल के साथ धोया करते ते जिस आजकल लोग एक प्रक्रिया मानते है उसे oil pulling कहते हैं, जोंकी तिल के तेल का प्रयोग करते थे।

जो की उनके मुंह को स्वस्थ रहने में काफी मददगार साबित होता था, और दांतो के लिए बहुत ज्यादा लाभदायक होता था।
इसलिए इसका इस्तेमाल आज भी लिए करते हैं और dentist भी इसका सलाह देते हैं।

03 जोड़ो(arthritis) के बीमारियों में til ke tel ke fayde jodo ke dard me

तिल का तेल जोड़ो के बीमारियों में बहुत लाभकारी सिद्ध हुआ है। इसमें कॉपर जिंक पाया जाता है यह एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण भी होता है।

जो उसके इस्तेमाल से जोड़ो के बीमारी में लाभदायक होता है यह जोड़ो के दर्द और सूजन को कम करता है। और हड्डियों को मजबूत बनाती है।

04 उच्च रक्तचाप में सहयोग करता है

यह तेल ब्लड प्रेशर को कम करने में मददगार साबित हुई है। इसमें पाए जाने वाले मैग्नेशियम और अभी खनिज पाया जाता है जो उच्च रक्तचाप कम करते है।

इसके साथ इसमें और भी एंटी ऑक्सीडेंट प्रचूर मात्रा में पाया जाता है कम करने वाले लिपिड परॉक्सिदेंट को कम करता है।

जिसके फलस्वरूप एंटी ऑक्सीडेंट क्रिया बढ़ती है और ब्लड प्रेशर को कम करने में सहायता करती है। जिससे ज्यादातर लोगो को जो तिल तेल का उपयोग करने वाले लोगों को ब्लड प्रेशर की बीमारी नहीं होती है।

05 यह स्ट्रेस और डिप्रेशन (अवसाद) को रोकता है।

जैसे में बताया कि इसमें एक प्रमुख अमीनो एसिड tyrosine पाया जाता है जो कि यह एक प्रोटीन का छोटा अणु होता है।

यह सीधे हमारे ब्रैन या मस्तिस्क में पाए जाने वाले रसायन यानी न्यूरोट्रांसमिटर सिरोटोनिन को प्रभावित करता है,इसके फलस्वरूप इंसान का मूड में परिवर्तन आता है।

और उससे खुशी और अच्छा महसूस करने का अनुभव होता है जो कि स्ट्रेस और मानसिक तनाव को कम करता है। इसलिए तिल का तेल तनाव को कम करने के लिए कारगर है।

06 til ke tel ke fayde मधुमेह (Diabetes) के बीमारी में

तिल तेल में पाए जाने वाले मैग्नेशियम और बहुत सारे पोष्टिक तत्व ब्लॉड में पाए जाने वाले सुगर यानी ग्लूकोज की मात्रा को कम करने के लिए मदद करते हैं।

जिससे मधुमेह के बीमारी को नियंत्रण में रखता है।
इसको आप अपने कुकिंग ऑइल में जरूर शामिल करें।

07 खून की कमी के बीमारी में (एनीमिया)

एनीमिया की बीमारी में यह तेल बहुत लाभकारी सिद्ध है इसे घर में इस्तेमाल करने कि सलाह दिया जाता है जिसे कोई खून की कमी पायी जाती है।

और एनीमिया संबंधित बीमारी में इसको घरेलू उपाय के रूप में उपयोग किया जाता है। क्योंकि इसने पाए जाने वाले प्रचूर मात्रा में आयरन पाया जाता है।

जो खून की कमी में दिया जाता है इस तेल का आहार हर हरी सब्जी के साथ करके आप इसका इस्तेमाल किया जाता है।

08 कैंसर के बीमारी में til ke tel ke fayde

अध्ययन से ये पाया गया है कि तिल के तेल में मैग्नीशियम और भी बहुत खनिज पाया जाता है जो कि एंटी कैंसर का गुण पाया जाता है।

Liver cancer and prevention and treatment

और साथ में इसमें एक phylate नाम का तत्व पाया जाता है जो एंटी कैंसर प्रकृति का होता है। और colorectal tumor को होने से बचाता है और इसके प्रति लडने में मदद करता है।

09 घाव और बर्न (जलने) के घाव को भरने में सहायता करती है।

तिल के तेल जले हुए घाव की भरने में और भी ज्यादा मदद करती है और इसमें पाए जाने वाले एंटी वायरस और एंटी बायोटिक गुण घाव के संक्रमण होने से रोकता है और इसे जल्दी से हिल होने में भरने में सहायक होती है।

 तिल के तेल के दुप्रभाव (Common Allergic symptoms of Sesame oil)

तिल एलर्जी के सामान्य लक्षणों में जैसे अस्थमा, खुजली, लाल और चिढ़ आँखें शामिल हैं।
पित्ती, बहती नाक और गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याएँ हैं। हालांकि कुछ लोगों के लिए तिल एलर्जी के साथ यह दुर्लभ है कि एनाफिलेक्सिस का अनुभव हो सकता है।

एक तीव्र और तेजी से एलर्जी की प्रतिक्रिया जो सांस लेने में कठिनाई पैदा कर सकती है। रिपोर्ट में पाया गया है कि नट और मूंगफली जैसे नट एलर्जी वाले लोग भी तिल के तेल में एलर्जी का अनुभव कर सकते हैं।

निष्कर्ष : Til ke Tel Ke Fayde (Sesame Oil Health Benefits In Hindi)

यह पोस्ट तिल के तेल के बारे में था और उसके फायदे के बारे में था। Sesame oil health benefits in hindi तिल का तेल एक आयुर्वेद प्रणाली के अन्तर्गत आने वाला तेल है जिसका इस्तेमाल बहुत दिनों से किया जा रहा है।

Til ke Tel Ke Fayde सांस बहुत सारे हैं जीसेमें से आपको संक्षिप्त में बताने की कोशिश किया है।

Leave a Comment